H

मप्र में राहुल गांधी की यात्रा से पहले कुछ प्रत्याशियों की घोषणा कर सकती है कांग्रेस

By: Ramakant Shukla | Created At: 05 February 2024 03:43 PM


राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा मध्यप्रदेश में मार्च के पहले सप्ताह में पहुंचेगी। इसके पहले पार्टी लोकसभा चुनाव के लिए कुछ सीटों के प्रत्याशी घोषित कर सकती है। इनमें वे सीटें शामिल हैं, जहां एक नाम पर सहमति बन रही है। पार्टी एक या दो महापौर को भी चुनाव लड़ा सकती है।

banner
राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा मध्यप्रदेश में मार्च के पहले सप्ताह में पहुंचेगी। इसके पहले पार्टी लोकसभा चुनाव के लिए कुछ सीटों के प्रत्याशी घोषित कर सकती है। इनमें वे सीटें शामिल हैं, जहां एक नाम पर सहमति बन रही है। पार्टी एक या दो महापौर को भी चुनाव लड़ा सकती है।

कुछ विधायकों पर भी लगाया जा सकता है दांव

जबलपुर सीट के लिए महापौर जगत प्रताप सिंह और रीवा के लिए अजय मिश्रा के एकल नाम प्रस्तावित हैं। वहीं, कुछ विधायकों पर भी पार्टी दांव लगा सकती है। आठ और नौ फरवरी को दिल्ली में स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक होगी, जिसमें कुछ नामों को अंतिम रूप देकर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी को प्रस्तावित किए जा सकते हैं।

सभी 29 सीटों पर समन्वयक भेजे

कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव के लिए प्रत्याशी चयन में इस बार सभी 29 सीटों पर समन्वयक भेजे हैं। इन्होंने अपनी रिपोर्ट प्रदेश कांग्रेस को भेज दी है। स्क्रीनिंग कमेटी की पहली बैठक में इस पर चर्चा भी हो चुकी है। जबलपुर से महापौर जगत प्रताप सिंह को चुनाव लड़ाने की तैयारी है। चार विधानसभा क्षेत्रों के कार्यकर्ताओं ने उनका नाम सर्वसम्मति से प्रदेश कांग्रेस को भेजा है। सिंह जबलपुर शहर कांग्रेस अध्यक्ष भी हैं। यही स्थिति रीवा से महापौर अजय मिश्रा को लेकर भी है। उनका नाम समन्वयक और पार्टी पदाधिकारियों ने प्रस्तावित किया है। वहीं, उज्जैन से महेश परमार का नाम आगे बढ़ाया गया है। वह तराना से दूसरी बार विधायक हैं। ग्वालियर से साहब सिंह गुर्जर का नाम रिपोर्ट में है। गुर्जर ग्वालियर ग्रामीण से विधायक हैं। मंदसौर से विधायक विपिन जैन का नाम समन्वयक ने दिया है। मुरैना से पूर्व नेता प्रतिपक्ष डॉ.गोविंद सिंह ने चुनाव लड़ने की इच्छा जताई है।

बैठक में होगा नामों पर विचार

सूत्रों का कहना है कि इन सभी नामों पर आठ और नौ फरवरी को दिल्ली में होने वाली बैठक में विचार किया जाएगा। जिन नामों पर सहमति बन जाएगी, उनकी सूची बनाकर केंद्रीय संगठन को भेज दी जाएगी। इस बैठक में राज्य सभा की एक सीट के लिए भी प्रत्याशी के नाम पर भी विचार किया जा सकता है। आठ फरवरी को राज्य सभा चुनाव की अधिसूचना जारी होने के साथ नामांकन की प्रक्रिया प्रारंभ हो जाएगी।