H

साल 2024 में इस दिन से शुरू हो रहे हैं गुप्त नवरात्र, जानिए क्या है इसका महत्व

By: Sanjay Purohit | Created At: 03 February 2024 11:41 AM


गुप्त नवरात्र में गुप्त रूप से की जाती है पूजा।

banner
हिंदू पंचांग के अनुसार साल में कुल चार बार नवरात्रि आती हैं जिसमें से एक शारदीय नवरात्रि और एक चैत्र होती हैं। वहीं साल में दो गुप्त नवरात्र भी मनाई जाती हैं जो माघ और आषाढ़ माह में आती हैं। माना जाता है कि गुप्त नवरात्र में मां दुर्गा की पूजा-अर्चना करने से साधक के सभी कष्ट दूर हो सकते हैं।

माघ गुप्त नवरात्र 2024 का शुभारंभ

माघ मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से गुप्त नवरात्र की शुरुआत होती है, नवमी तिथि तक मनाई जाती है। ऐसे में पंचांग के अनुसार, साल 2024 में माघ गुप्त नवरात्रि की शुरुआत 10 फरवरी, शनिवार के दिन से हो रही है। वहीं 18 फरवरी, रविवार के दिन इसका समापन होगा।

घट स्थापना का मुहूर्त

गुप्त नवरात्र में शारदीय या चैत्र माह की नवरात्र की तरह ही घट स्थापना की जाती है। माघ मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि 10 फरवरी 2024 को सुबह 04 बजकर 28 मिनट पर शुरू हो रही है, जो 11 फरवरी रात्रि 12 बजकर 47 मिनट पर समाप्त होगी। ऐसे में माघ गुप्त नवरात्र के घट स्थापना का मुहूर्त कुछ इस प्रकार रहेगा

माघ गुप्त नवरात्र का महत्व

माघ नवरात्र, जिसे गुप्त नवरात्र भी कहा जाता है, इस दौरान मुख्य रूप से नौ दिनों की अवधि में दस महाविद्याओं की पूजा-अर्चना गुप्त तरीके से की जाती है। इस पूजा का मुख्य उद्देश्य साधकों या अघोरी द्वारा तंत्र-मंत्र की सिद्धि पाना होता है। माना जाता है कि इस पूजा अनुष्ठान को जिनता गुप्त रखा जाता है, साधक की मनोकामनाएं भी उतनी ही जल्दी पूरी होती हैं।