H

राम मंदिर पर बहस के दौरान लोकसभा में ओवैसी बोले - अयोध्या में बाबरी मस्जिद थी, है और रहेगी

By: Richa Gupta | Created At: 10 February 2024 04:05 PM


ओवैसी ने कहा कि, किस बात का जश्न मनाया जा रहा है जिसके जवाब में गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि, 500 साल बाद इंसाफ मिला है, न्याय की जीत का जश्न मन रहा है।

banner
बीजेपी ने आज यानी की शनिवार को संसद में प्रभु श्रीराम का नाम लेकर लोकसभा चुनाव का शंखनाद किया। राम मंदिर के निर्माण और रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद दिया गया। इस दौरान एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने बाबरी ढांचा गिराए जाने का मामला उठाया। ओवैसी ने कहा कि, किस बात का जश्न मनाया जा रहा है जिसके जवाब में गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि, 500 साल बाद इंसाफ मिला है, न्याय की जीत का जश्न मन रहा है।

क्या मोदी सरकार सिर्फ एक मजहब की सरकार है ? - ओवैसी

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन औवेसी ने केंद्र की मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि, बाबरी मस्जिद जिंदाबाद, बाबरी मस्जिद जिंदाबाद... मस्जिद थी, है और रहेगी। ओवैसी ने आगे कहा कि, क्या मोदी सरकार सिर्फ एक मजहब की सरकार है ? क्या मोदी सरकार सिर्फ हिन्दुत्व की सरकार है ? क्या देश का कोई मजहब है? देश का कोई मजहब नहीं है। मुसलमानों को क्या पैगाम दे रहे हैं आप ?

मैं बाबर, औरंगजेब या जिन्ना का प्रवक्ता नहीं हूं - ओवैसी

अयोध्या का जिक्र करते हुए एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने संसद में कहा कि, मोदी सरकार केवल एक मजहब की सरकार है ? या पूरे देश के धर्मों को मानने वाली सरकार है ? उन्होंने कहा कि, 22 जनवरी का जश्न मनाकर आप करोड़ों मुसलमानों को क्या मैसेज दे रहे हैं ? क्या यह सरकार यह संदेश देना चाहती है कि, एक धर्म ने दूसरे पर विजय प्राप्त की? आप देश के 17 करोड़ मुसलमानों को क्या संदेश देते हैं? ओवैसी ने आगे कहा कि, 1992, 2019, 2022 में मुसलमानों को धोखा दिया, मैं बाबर, औरंगजेब , जिन्ना का प्रवक्ता नहीं हूं।