H

Anantnag Encounter में सेना को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर आतंकी उजैर खान को किया ढेर

By: payal trivedi | Created At: 19 September 2023 11:12 AM


जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में चल रहे एनकाउंटर (Anantnag Encounter) में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है। सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी उजैर खान को ढेर कर दिया है।

bannerAds Img
अनंतनाग: जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में चल रहे एनकाउंटर (Anantnag Encounter) में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है। सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी उजैर खान को ढेर कर दिया है। कश्मीर एडीजीपी विजय कुमार ने बताया कि अनंतनाग में आतंकी उजैर को मार गिराया गया। एक लाश को ढूंढा जा रहा है, जो आतंकी की हो सकती है। सर्च ऑपेशन अभी जारी रहेगा है, क्योंकि यहां गोले मौजूद हैं। इस ऑपरेशन में चार जवान भी शहीद हुए हैं।

सुरक्षाबलों का फोकस सर्च ऑपरेशन पर

वर्तमान में अनंतनाग में चल रहा एनकाउंटर (Anantnag Encounter) खत्म हो गया है। ऐसे में अब सुरक्षाबलों ने अपना फोकस सर्च ऑपरेशन पर लगा दिया है। इसकी वजह ये है कि यहां पर आतंकियों से जुड़ी चीजें मौजूद हो सकती हैं। इस ऑपरेशन में दो आतंकियों को ढेर किया गया है, जबकि चार जवान शहीद हुए हैं। सेना अभी तीसरे आतंकी के शव की तलाश भी कर रही है. फिलहाल सेना ने इस पूरे इलाके को घेरा हुआ है। जंगलों में सेना के जवान आतंकियों के सामनों की तलाश में जुटे हुए हैं।

कुछ इलाकों में जारी रहेगा सर्च ऑपरेशन

एडीजीपी विजय कुमार ने अनंतनाग ऑपरेशन को लेकर मंगलवार को मीडिया से बात की। उन्होंने बताया, 'अभी सर्च ऑपरेश जारी रहने वाला है, क्योंकि कई सारे इलाके बचे हुए हैं। हम लोगों से अपील करते हैं कि वे उन इलाकों में नहीं जाएं। हमारे पास दो से तीन आतंकियों की जानकारी थी।' उन्होंने आगे बताया, 'इस बात की संभावना है कि हमें तीसरा शव भी कहीं मिल जाए। इस वजह से ही हम सर्च ऑपरेशन जारी रखने वाले हैं।'

लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर का शव कब्जे में

विजय कुमार ने बताया, 'हमें लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर (Anantnag Encounter) का शव मिला है और हमने उसे अपने कब्जे में कर लिया है। हम और शव भी मिल सकते हैं, इसलिए ही तीसरे शव की तलाश हो रही है।' दरअसल, एक हफ्ते से चल रहा एनकाउंटर अब जाकर खत्म हुआ है। दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग कोकेरनाम इलाके में आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिली थी, जिसके बाद सेना के जवान और जम्मू-कश्मीर पुलिस यहां पर पहुंची थी।