H

2029 तक तैयार होगा एमपी का पहला परमाणु ऊर्जा संयंत्र, सरकार खरीदेगी 700 मेगावाट बिजली

By: Sanjay Purohit | Created At: 11 July 2024 08:15 AM


ऊर्जा विभाग ने जारी किया बिजली खरीदी का सहमति-पत्र, इससे निजी क्षेत्र पर निर्भरता कम होगी, अभी 33 प्रतिशत बिजली निजी संयंत्रों से खरीद रही मध्य प्रदेश सरकार

bannerAds Img
मध्यप्रदेश का पहला परमाणु ऊर्जा संयंत्र मंडला जिले के चुटका में 2029-30 में तैयार हो जाएगा। इससे 1400 मेगावाट बिजली बनेगी। इसमें से 700 मेगावाट बिजली प्रदेश सरकार खरीदेगी। ऊर्जा विभाग सहमति पत्र जारी कर चुका है। इसके बाद खरीदी के लिए निजी कंपनियों पर निर्भरता भी कम होगी। अभी 33 प्रतिशत बिजली निजी कंपनियों से खरीदी जा रही है। इसमें गैर परंपरागत तरीकों से बनी बिजली की भागीदारी भी लगातार बढ़ रही है। यह जानकारी हाल ही में मध्य प्रदेश के विधानसभा के मानसून सत्र में ऊर्जा मंत्री ने दी।

1200 एकड़ क्षेत्र में किया जा रहा निर्माण

केंद्र सरकार ने देश में दस स्वदेशी परमाणु ऊर्जा रिएंटर लगाने के लिए जून 2017 में मंजूरी दी थी। उन दस परमाणु संयंत्रों में एक मध्यप्रदेश का चुटका संयंत्र भी था। स्वदेशी तकनीक से निर्मित यह रिएंटर भारतीय परमाणु ऊर्जा निगम लिमिटेड (एनपीसीआईएल) की ओर से लगाया जा रहा है।

यह परमाणु ऊर्जा रिएंटर 1200 एकड़ क्षेत्र में बन रहा है। 510 मेगावाट क्षमता बढ़ी।विधानसभा में विधायक राजेश कुमार के सवाल के जवाब में ऊर्जा मंत्री ने लिखित जानकारी दी कि वर्ष 2024-25 के क्षमता वृद्धि कार्यक्रम में अभी तक प्रदेश में 470 मेगावाट क्षमता के सौर ऊर्जा संयंत्र और 40 मेगावाट क्षमता के गैर सौर ऊर्जा संयंत्र क्रियाशील हो चुके हैं।