H

पूर्व सीएम कमलनाथ ने की कर्मचारियों को केंद्र के बराबर महंगाई भत्ता देने की मांग

By: Richa Gupta | Created At: 31 January 2024 03:41 PM


मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक बार फिर प्रदेश की मोहन सरकार को घेरा है। कमलनाथ ने कहा है कि मध्य प्रदेश सरकार का कर्मचारी विरोधी रवैया एक बार फिर सामने आ रहा है।

banner
मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने के बाद एक बार फिर कर्मचारी वर्ग सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने जा रहा है। बता दें प्रदेश के कर्मचारी महंगाई भत्ते को बढ़ाने की मांग कर रहें है। अब इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ उनके समर्थन में उतर गए है। कर्मचारियों के DA की मांग पर कमलनाथ का ट्वीट कर सरकार से मांग की है।

X पर किया पोस्ट

दरअसल, मध्य प्रदेश के लाखों सरकारी कर्मचारियों का DA को लेकर इंतजार बढ़ता ही जा रहा है। ऐसे में अब प्रदेश के कर्मचारियों के समर्थन में कमलनाथ उतर आए हैं। उन्होंने X पर पोस्ट करते हुए लिखा, ”मध्य प्रदेश सरकार का कर्मचारी विरोधी रवैया एक बार फिर सामने आ रहा है। मध्य प्रदेश के सरकारी कर्मचारी लंबे समय से केंद्र के बराबर 46% महंगाई भत्ता देने की मांग कर रहे हैं। मैं उनकी मांग का समर्थन करता हूं।”

कर्मचारी हितैषी दिखाने के लिए पाखंड किया था

पूर्व सीएम कमलनाथ ने आगे कहा, ”विधानसभा चुनाव की वोटिंग से पहले भाजपा सरकार ने चुनाव आयोग से अनुमति मांगी थी कि महंगाई भत्ता बढ़ा दिया जाए, भाजपा सरकार को अच्छी तरह पता था कि आचार संहिता के बीच में निर्वाचन आयोग ऐसा नहीं कर सकता। इसलिए भाजपा ने खुद को कर्मचारी हितैषी दिखाने के लिए यह पाखंड किया था।”

सरकारी कर्मचारियों के साथ छलावा न करें

कमलनाथ ने कहा, ”अब जब बीजेपी की सरकार दोबारा बन गई है तो कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ाने की फाइल ही आगे नहीं बढ़ रही। इससे पता चलता है कि भारतीय जनता पार्टी चुनाव के समय जनहित की बातें करती है और चुनाव जीतने के बाद सभी वर्गों को ताक पर रख देती है। मैं मुख्यमंत्री से अनुरोध करता हूं कि सरकारी कर्मचारियों के साथ छलावा करने की बजाय वह कर्मचारियों को उनका अधिकार दें और 46% महंगाई भत्ता देना सुनिश्चित करें।”