H

Israel-Hamas War के विराम के मिले संकेत, अमेरिकी अधिकारियों को उम्मीद- बंधकों को छोड़ने के समझौते पर हुई प्रगति

By: payal trivedi | Created At: 28 January 2024 05:38 PM


इजरायल ने हमास के साथ समझौता करने का फैसला किया है कि अगर आतंकी बंधकों को छोड़ देता है तो, वह गाजा पर दो महीने तक हमले नहीं करेगा। दो वरिष्ठ प्रशासन के अनुसार, अमेरिकी वार्ताकार एक संभावित समझौते पर प्रगति कर रहे हैं।

banner
वाशिंगटन: इजरायल ने हमास के साथ समझौता करने का फैसला किया है कि अगर आतंकी बंधकों को छोड़ देता है तो, वह गाजा पर दो महीने तक हमले नहीं करेगा। दो वरिष्ठ प्रशासन के अनुसार, अमेरिकी वार्ताकार एक संभावित समझौते पर प्रगति कर रहे हैं।

दो चरणों में पूरी होगी शर्त

नाम न छापने की शर्त पर एक अधिकारी ने शनिवार को कहा कि अभी तक युद्ध विराम वाले सौदे की उभरती शर्तें दो चरणों में लागू होंगी। पहले चरण में, हमास द्वारा शेष महिलाओं, बुजुर्गों और घायल बंधकों को रिहा करने की अनुमति देने के लिए लड़ाई रोक दी जाएगी। इसके बाद इजरायल और हमास दूसरे चरण के लिए विराम के पहले 30 दिनों के दौरान विवरण तैयार करने का लक्ष्य रखेंगे, जिसमें इजरायली सैनिकों और गैर-सैनिक लोगों को रिहा किया जाएगा।

बंधकों को छोड़ने के समझौते पर हुई प्रगति

हालांकि, प्रस्तावित समझौते से युद्ध समाप्त नहीं होगा, अमेरिकी अधिकारियों को उम्मीद है कि ऐसा समझौता संघर्ष के टिकाऊ समाधान के लिए आधार तैयार कर सकता है। न्यूयॉर्क टाइम्स ने पहली बार शनिवार को रिपोर्ट दी कि शेष बंधकों के बदले में लड़ाई रोकने के समझौते की दिशा में प्रगति हुई है। समाचार एजेंसी एपी के मुताबिक, उम्मीद है कि सीआईए निदेशक बिल बर्न्स रविवार को फ्रांस में इजरायल की मोसाद खुफिया एजेंसी के प्रमुख डेविड बार्निया, कतर के प्रधानमंत्री मोहम्मद बिन अब्दुलरहमान अल थानी और मिस्र के खुफिया प्रमुख अब्बास कामेल से बातचीत के दौरान उभरते समझौते की रूपरेखा पर चर्चा करेंगे।

बाइडन ने मिस्र और कतर के प्रमुख से की बातचीत

राष्ट्रपति जो बाइडन ने शुक्रवार को मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सिसी और कतर के सत्तारूढ़ अमीर शेख तमीम बिन हमद अल-थानी से फोन पर बात की। दोनों नेताओं के साथ बातचीत बंधक स्थिति पर केंद्रित रही।