H

वाशिंग मशीन में मिली 2.5 करोड़ रुपए की नकदी, ईडी ने पकड़ी 1800 करोड़ की हेराफेरी

By: Durgesh Vishwakarma | Created At: 27 March 2024 10:28 AM


प्रवर्तन निदेशालय ने फेमा के मामले में 5 शहरों में कैप्रीकोरियन शिपिंग एंड लॉजिस्टिक्स प्राइवेट लिमिटेड और इसके निदेशकों से जुड़े कई ठिकानों पर छापे मारे।

banner
आगामी लोकसभा चुनाव 2024 से पहले ED अपने पूरे फार्म में है। ED एक के बाद एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम दे रहा है। प्रवर्तन निदेशालय ने फेमा के मामले में 5 शहरों में कैप्रीकोरियन शिपिंग एंड लॉजिस्टिक्स प्राइवेट लिमिटेड और इसके निदेशकों से जुड़े कई ठिकानों पर छापे मारे।

कुछ रकम वॅाशिंग मशीन में छिपाई हुई थी

ED के खापे में एक निदेशक के ठिकाने से 2.54 करोड़ रुपये नकदी बरामद हुए, जिसमें से कुछ रकम वॅाशिंग मशीन में छिपाई हुई थी। मिली जानकारी के अनुसार, छापों में आपत्तिजनक दस्तावेज और कई डिजिटल उपकरण भी बरामद किए गए हैं।

ED बरामद दस्तावेजों की जांच कर रही है

ED सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, राजधानी दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, हैदराबाद और कुरुक्षेत्र में छापे मारे गए। इन पर भारत के बाहर विदेशी करेंसी भेजने का आरोप है। ED की जांच में पता चला कि, आरोपी कंपनियां व उनके निदेशक लगभग 1800 करोड़ रुपए की विदेशी करेंसी देश से बाहर भेजने के संदिग्ध लेन देन में शामिल हैं। मिली जानकारी के अनुसार, ED ने कंपनियों के 47 बैंक खातों को भी फ्रीज कर दिया है ताकि किसी प्रकार का कोई ट्रांजेक्शन नहीं किया जा सके। ED बरामद दस्तावेजों की जांच कर रही है।