H

चंपई सोरेन सरकार को विश्वासमत हासिल, फ्लोर टेस्ट में किसे मिले कितने वोट?

By: Ramakant Shukla | Created At: 05 February 2024 02:42 PM


हेमंत सोरेन के इस्तीफे के बाद मुख्यमंत्री बने चंपई सोरेन ने सोमवार को विधानसभा में विश्वास मत हासिल कर लिया। विश्वासमत के प्रस्ताव के पक्ष में 47 वोट पड़े। वहीं इसके खिलाफ 29 वोट पड़े। झारखंड 81 सीटें हैं, सरकार बनाने के लिए किसी भी एक दल की 41 विधायकों की जरूरत होती है।

banner
हेमंत सोरेन के इस्तीफे के बाद मुख्यमंत्री बने चंपई सोरेन ने सोमवार को विधानसभा में विश्वास मत हासिल कर लिया। विश्वासमत के प्रस्ताव के पक्ष में 47 वोट पड़े। वहीं इसके खिलाफ 29 वोट पड़े। झारखंड 81 सीटें हैं, सरकार बनाने के लिए किसी भी एक दल की 41 विधायकों की जरूरत होती है। चंपई सोरेन ने दो फरवरी को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी और बहुमत साबित करने के लिए 5 फरवरी की तारीख तय हुई। उन्होंने आज विश्वास मत पेश किया और इसके बाद इस पर चर्चा शुरू हुई। चर्चा की शुरुआत चंपई सोरेन ने की और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की। इसमें हमने उन्हें असफल कर दिया। सोरेन ने कहा, ''बीजेपी हेमंत सोरेन को झूठे मामलों में फंसाने के लिए केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही है। चंपई सोरेन ने कहा कि हेमंत सोरेन को झूठे केस में फंसाया गया, हम सीएम रहते हुए किए गए उनकी योजनाओं को आगे बढ़ाएंगे।

क्या बोले हेमंत सोरेन?

इसके बाद हेमंत सोरेन ने केंद्र सरकार, राज्यपाल और बीजेपी पर तीखा हमला किया। उन्होंने कहा, ''मैं बीजेपी को मेरे खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप साबित करने की चुनौती देता हूं, अगर आरोप साबित हुए तो राजनीति छोड़ दूंगा। राजनीति से संन्यास ही नहीं झारखंड छोड़ दूंगा।