H

जरूरत पड़ी तो करेंगे अग्निवीर योजना में बदलाव, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का बड़ा बयान

By: Sanjay Purohit | Created At: 30 March 2024 02:45 PM


देश के कई इलाकों में विरोध और आलोचना के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि यदि जरूरत पड़ी तो सरकार अग्निवीर योजना में बदलाव करेगी।

banner
दिल्ली। एक मीडिया संस्थान को दिए इंटरव्यू में देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चौकाने वाला बयान दिया है। यह बयान सेना में भर्ती के लिए लायी गयी अग्निवीर योजना के बारे में है। वही अग्निवीर योजना जिसके खिलाफ देशभर में कई जगहों पर अग्निवीर योजना को लेकर आक्रोश देखा गया था। हरियाणा और राजास्थान के शेखावाटी के इलाके में युवाओं ने इसको लेकर धरना प्रदर्शन और विपक्षी गठबंधन इंडिया ने इसका विरोध भी किया था। अब लोकसभा चुनाव से ठीक पहले देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि यदि जरूरत पड़ी तो सरकार अग्निवीर भर्ती योजना में बदलाव करेगी।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने क्या कहा ?

"युवाओं की भर्ती से जोखिम लेने की भावना बढ़ेगी और तकनीक-कुशल सशस्त्र बल तैयार होंगे। आम तौर पर हमारे जवानों की उम्र सीमा 30-50 वर्ष होती है। लेकिन 18-20 साल के जवानों के अग्निवीर के रूप में शामिल होने से जोखिम लेने की भावना कुछ और बढ़ेगी। सरकार अग्निवीरों का भविष्य सुरक्षित रखने की पूरी कोशिश कर रही है।हमारी यही कोशिश है कि सेना में ज्यादा युवा होने चाहिएं और जरुरत पड़ी तो हम योजना में बदलाव करने के लिए भी तैयार हैं।"

क्या है अग्निवीर भर्ती स्कीम?

केंद्र की मोदी सरकार ने 14 जून, 2022 को सशस्त्र बलों भर्ती होने के लिए अग्निवीर योजना को शुरू किया था। इस योजना के तहत चार साल की अवधि के लिए युवाओं को अग्निवीर के रूप में मान्यता दी जाएगी। सरकार ने तय किया कि अग्निवीर भारतीय सेना में अलग से एक रैंक होगी। इस योजना के तहत अग्निवीरों को हेल्थ स्कीम, पेंशन या ग्रेच्युटी जैसी सुविधाओं का फायदा नहीं मिलेगा। अग्निवीरों को राशन, यूनिफॉर्म और ट्रेवल के भत्ते मिलेंगे।