H

Rajasthan Annapurna Yojana में बंटे फूड पैकेट जांच रिपोर्ट में हुए फेल, अब नए सिरे से देनी होगी सप्लाई

By: payal trivedi | Created At: 22 August 2023 05:52 AM


चुनावी साल में गहलोत सरकार की ओर से आमजन को लुभाने के लिए फ्री में फूड पैकेट बांटने के लिए अन्नपूर्णा योजना (Rajasthan Annapurna Yojana) शुरू की गई है।

bannerAds Img
Jaipur: चुनावी साल में गहलोत सरकार की ओर से आमजन को लुभाने के लिए फ्री में फूड पैकेट बांटने के लिए अन्नपूर्णा योजना (Rajasthan Annapurna Yojana) शुरू की गई है। सीएम गहलोत की ओर से 15 अगस्त से ही योजना के शुरू करने की तारीख का एलान कर दिया था। इस पर ठेकेदार ने आनन-फानन में ही फूड पैकेट सप्लाई के लिए दे दिए।

स्वास्थ्य विभाग ने लिए थे सैंपल

इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से आमजन (Rajasthan Annapurna Yojana) के लिए फूड पैकेट कितने शुद्ध है इसके लिए सप्लाई के बाद सैंपल लिए गए। अब करीब 7 दिन बाद रिपोर्ट आई है, जिसमें मसाले मिलावटी पाए गए। इसके बाद प्रशासन ने सप्लाई दी गई सामग्री वापिस मंगवा दी है। अब नए सिरे से फूड पैकेट वितरण कार्यक्रम तय होगा। प्रदेश में आमजन को फ्री में फूड पैकेट वितरण की योजना को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 15 अगस्त को शुरू की।

सोशल मीडिया पर मसाले की खराब क्वालिटी के वीडियो हुए वायरल

जल्दबाजी में जिला प्रशासन ने खाद्य पदार्थों के नमूनों की रिपोर्ट मिलने से पहले ही सामग्री का वितरण कार्य शुरू करवा दिया। पैकेट में गुणवत्ता नहीं होने पर सोशल मीडिया पर मसाले घटिया क्वालिटी के होने को लेकर वीडियो वायरल हुए। इसके बाद हरकत में आए जिला प्रशासन ने तत्काल सप्लाई को रोकते हुए एक जांच कमेटी बनाई।

जानें कब मिलेगी दूसरी सप्लाई

मामला सीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट से जुड़ा होने पर जोधपुर (Rajasthan Annapurna Yojana) की लैब से नमूनों की तत्काल जांच करवाई गई। जांच रिपोर्ट में सामने आया है कि यह खाद्य पदार्थ सब स्टैंडर्ड लेवल से जुड़ा है। इसलिए आमजन के खाने योग्य नहीं है। ऐसी स्थिति में प्रशासन ने ठेकेदार को पाबंद करते हुए सप्लाई किए गए पैकेट वापस उठाकर नए गुणवत्ता युक्त फूड पैकेट वितरण करने के निर्देश ​जारी किए है। अब ठेकेदार संभवत: 22 या 23 अगस्त को दूसरी सप्लाई देगा।