H

प्याज और टमाटर ने आम आदमी की जेब की ढीली, आसमान छू रहे सब्जियों के दाम

By: Richa Gupta | Created At: 06 July 2024 05:30 AM


मानसून आने के बाद बेशक लोगों को गर्मी से राहत मिलने लगी है। मगर अब बारिश का असर आम आदमी की जेब पर पड़ सकता है। बरसात के कारण एक बार फिर सब्जियों के दाम आसमान छूने लगे हैं।

bannerAds Img
मानसून आने के बाद बेशक लोगों को गर्मी से राहत मिलने लगी है। मगर अब बारिश का असर आम आदमी की जेब पर पड़ सकता है। बरसात के कारण एक बार फिर सब्जियों के दाम आसमान छूने लगे हैं। खासकर उत्तर भारत में भारी बारिश की वजह से सड़कें और परिवहन बाधित हो रहा है। जिसकी वजह से टमाटर के भाव 80 रुपये तक पहुंच गए हैं।

टमाटर की सप्लाई कम होने लगी

उपभोक्ता मंत्रालय के अनुसार टमाटर का खुदरा मूल्य एक महीने पहले 35 रुपये था, जोकि अब 55 रुपये हो गया है। इसका बड़ा कारण हिमाचल प्रदेश में हो रही बारिश है। दरअसल हिमाचल प्रदेश बड़ी संख्या में टमाटर सप्लाई करता है। मगर बारिश के चलते नदियां उफान पर हैं और कई जगहों पर लैंडस्लाइड देखने को मिली है। ऐसे में सड़कें बंद हो गई हैं और उत्तर भारत में टमाटर की सप्लाई भी कम होने लगी है।

प्याज और आलू के दाम में बढ़ोत्तरी

हालांकि ये पहली बार नहीं है जब टमाटर की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं। पिछले साल मानसून के दौरान टमाटर 350 रुपये किलो मिल रहा था। टमाटर के अलावा प्याज और आलू के दाम में भी उछाल देखने को मिल सकता है। 30 जून तक प्याज का थोक मूल्य 1,260 प्रति क्विंटल से 2,603 प्रति क्विंटल हो गया है। वहीं आलू का थोक मूल्य 1,076 प्रति क्विंटल से 2,116 प्रति क्विंटल है।