H

आपातकाल के 50 साल पूरे होने पर संबित पात्रा बोले - संविधान बचाने की बात करने वाले राहुल गांधी को आईना दिखाना जरूरी!

By: Durgesh Vishwakarma | Created At: 26 June 2024 11:16 AM


लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि, ये सदन 1975 में देश में आपातकाल (इमरजेंसी) लगाने के निर्णय की कड़े शब्दों में निंदा करता है।

bannerAds Img
भारतीय जनता पार्टी के सांसद ओम बिरला लोकसभा के अध्यक्ष चुने गए। कुर्सी संभालते ही बिरला ने 18वीं लोकसभा के पहले सत्र को संबोधित किया। ओम बिरला ने प्रधानमंत्री मोदी और सदन के सभी सदस्यों को धन्यवाद किया। इसके साथ ही आपातकाल की निंदा की। इस दौरान विपक्ष ने जमकर हंगामा किया।

ये सदन आपातकाल लगाने के निर्णय की कड़े शब्दों में निंदा करता है

आज लोकसभा में आपातकाल पर पेश किए गए प्रस्ताव पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि, ये सदन 1975 में देश में आपातकाल (इमरजेंसी) लगाने के निर्णय की कड़े शब्दों में निंदा करता है। इसके साथ ही हम, उन सभी लोगों की संकल्पशक्ति की सराहना करते हैं, जिन्होंने आपातकाल का पुरजोर विरोध किया, अभूतपूर्व संघर्ष किया और भारत के लोकतंत्र की रक्षा का दायित्व निभाया।

राहुल गांधी को आईना दिखाना जरूरी!

वहीं आपातकाल की 50वीं वर्षगांठ पर भाजपा सांसद संबित पात्रा ने कहा कि, पूरा देश आज विरोध कर रहा है। यह दिन भारत के लोगों के मन में एक महत्वपूर्ण दिन है। आज से 49 साल पहले इंदिरा गांधी ने आपातकाल लगाया था। करीब डेढ़ लाख लोगों को जेल में डाल दिया गया था। बीजेपी नेता पात्रा ने आगे कहा कि, भारत के संविधान में 42वां संशोधन लाया गया था। संविधान बचाने की बात करने वाले राहुल गांधी को आईना दिखाना जरूरी है।