H

सीट शेयरिंग को लेकर कांग्रेस से नाराज AAP, तीन राज्यों में बुलाई बैठक

By: Richa Gupta | Created At: 09 February 2024 10:48 AM


लोकसभा चुनाव के लिए तैयारियों का दौर चल रहा है। गठबंधन कर चुनाव लड़ने वाले दल चाहते हैं कि जल्द से जल्द सीटों का बंटवारा हो जाए, जिससे तैयारियों को धार दिया जा सके।

banner
लोकसभा चुनाव के लिए तैयारियों का दौर चल रहा है। गठबंधन कर चुनाव लड़ने वाले दल चाहते हैं कि जल्द से जल्द सीटों का बंटवारा हो जाए, जिससे तैयारियों को धार दिया जा सके। लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस, आरजेडी, टीएमसी, आम आदमी पार्टी जैसे दलों ने मिलकर इंडिया गठबंधन बनाया है। हालांकि, अभी तक इंडिया गठबंधन में सीट बंटवारा नहीं हो पाया है, जिसे लेकर आम आदमी पार्टी (AAP) कांग्रेस से नाराज चल रही है।

सीटों का बंटवारा जल्द से जल्द होना चाहिए

दरअसल, आम आदमी पार्टी (AAP) ने 13 फरवरी को राजनीतिक मामलों की समिति (पीएसी) की मीटिंग बुलाई है। इस बैठक में गोवा, हरियाणा और गुजरात की लोकसभा सीटों के लिए उम्मीदवारों का फैसला किया जाएगा। आम आदमी पार्टी सीट शेयरिंग में हो रही देरी को लेकर कांग्रेस से नाराज भी चल रही है। आप का कहना है कि सीटों का बंटवारा जल्द से जल्द होना चाहिए, ताकि चुनावी रणनीति बनाई जा सके और चुनाव प्रचार की शुरुआत हो सके।

असम में उम्मीदवारों का ऐलान हुआ

जहां एक ओर आप उत्तर भारत के राज्यों में सीट बंटवारे का इंतजार कर रही हैं, वहीं दूसरी ओर पूर्वोत्तर में उसने उम्मीदवारों के नामों का ऐलान करना शुरू कर दिया है। पार्टी ने गुरुवार (8 फरवरी) को गुवाहाटी समेत असम की तीन सीट के लिए उम्मीदवारों का ऐलान किया। असम में लोकसभा की 14 सीटें हैं। आप के राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) संदीप पाठक ने कहा कि हम इंडिया गठबंधन का हिस्सा हैं और हमें उम्मीद है कि गठबंधन हमारे फैसले को स्वीकार करने वाला है। उन्होंने कहा कि चुनाव में कम समय बचा हुआ है। इस वजह से हर काम में तेजी लाने की जरूरत है। कई महीनों से सीट बंटवारे को लेकर बातचीत चल रही थी। लेकिन किसी भी तरह का नतीजा सामने नहीं आया। उन्होंने कहा कि हमने चुनाव लड़ने और जीतने का फैसला किया है। इस तरह पंजाब के बाद असम दूसरा राज्य बन गया है, जहां इंडिया गठबंधन में सीट बंटवारे को लेकर बात नहीं बन पाई है। पंजाब में AAP ने अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान किया है।