H

सर्द हवाओं ने फिर बढ़ाई ठिठुरन, लगातार चौथे दिन लुढ़का रात का पारा, दिन के तापमान में भी गिरावट

By: Ramakant Shukla | Created At: 09 February 2024 10:33 AM


उत्तर भारत की तरफ से आ रही सर्द हवाओं के कारण राजधानी भोपाल सहित पूरे प्रदेश में तापमान में गिरावट होने लगी है। भोपाल में पिछले चार दिन से लगातार रात का पारा लुढ़क रहा है। शुक्रवार को पारा दस डिग्री सेल्सियस से भी नीचे पहुंच गया और न्यूनतम तापमान 09 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस कम है।

banner
उत्तर भारत की तरफ से आ रही सर्द हवाओं के कारण राजधानी भोपाल सहित पूरे प्रदेश में तापमान में गिरावट होने लगी है। भोपाल में पिछले चार दिन से लगातार रात का पारा लुढ़क रहा है। शुक्रवार को पारा दस डिग्री सेल्सियस से भी नीचे पहुंच गया और न्यूनतम तापमान 09 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस कम है।

भोपाल में 4 दिन में 07 डिग्री से ज्यादा लुढ़का रात का पारा

साथ ही यह पिछले दिन के न्यूनतम तामपान (11.6 डिग्री) से भी 2.6 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा। वहीं दिन का तापमान भी गुरुवार को 23.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो पिछले दिन के अधिकतम तापमान (26.8) मुकाबले 3.1 डिग्री सेल्सियस कम रहा। साथ ही यह सामान्य से 04 डिग्री सेल्सियस कम रहा। गुरुवार को भोपाल में न्यूनतम तापमान 11.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था, जो सामान्य से 0.6 डिग्री सेल्सियस कम था। गौरतलब है कि 05 फरवरी को भोपाल में न्यूनतम तापमान 16.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। यानी चार दिन में पारा सात डिग्री सेल्सियस से ज्यादा लुढ़क गया है।

यहां सक्रिय हैं वेदर सिस्टम

पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत से आगे बढ़ चुका है। वर्तमान में पूर्वी विदर्भ पर हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात बना हुआ है। इस चक्रवात से लेकर कर्नाटक तक एक द्रोणिका भी बनी हुई है। हवा का रुख उत्तरी एवं उत्तर-पूर्वी बना हुआ है। हवाओं के साथ कुछ नमी आने की वजह से ऊंचाई के स्तर पर कुछ बादल भी छा रहे हैं।

आगे ऐसा रहेगा मौसम

फिलहाल एक-दो दिन मौसम ऐसा ही बना रहेगा। 11 फरवरी से विपरीत दिशाओं की हवाओं (उत्तरी-दक्षिणी) का संयोजन होने के कारण बादल छाने लगेंगे। साथ ही प्रदेश में कहीं-कहीं वर्षा होने का सिलसिला भी शुरू हो सकता है।