H

संदेशखाली के मुद्दे पर बंगाल विधानसभा में हंगामा, 6 भाजपा विधायक निलंबित

By: Sanjay Purohit | Created At: 12 February 2024 02:41 PM


संदेशखाली में अशांति के मद्देनजर सदन में विरोध प्रदर्शन करने पर विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी सहित छह भाजपा विधायकों को पश्चिम बंगाल विधानसभा से निलंबित कर दिया गया।

banner
संदेशखाली में अशांति के मद्देनजर सदन में विरोध प्रदर्शन करने पर विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी सहित छह भाजपा विधायकों को पश्चिम बंगाल विधानसभा से निलंबित कर दिया गया। अधिकारी के अलावा, अग्निमित्र पाल, मिहिर गोस्वामी, बंकिम घोष, तापसी मंडल और शंकर घोष को मौजूदा सत्र के शेष भाग या 30 दिनों, जो भी पहले हो, के लिए निलंबित कर दिया गया।

संदेशखाली में अशांति को लेकर टीएमसी सरकार को घेरा

प्रश्नकाल की शुरुआत से ही भाजपा विधायकों ने उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखाली में मौजूदा अशांति को लेकर टीएमसी सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी, जो एक बड़े राजनीतिक विवाद में तब्दील हो गया है। बीजेपी विधायक सदन के पटल पर बैठ गए और नारेबाजी करने लगे, जिससे विधानसभा के अंदर हंगामा शुरू हो गया. उन्हें सफेद शर्ट पहने भी देखा गया जिस पर लाल रंग से लिखा था "हम संदेशखाली के साथ हैं"।

यौन उत्पीड़न के अलावा, जमीन के बड़े हिस्से पर बलपूर्वक कब्जा करने का आरोप

इसके बाद स्पीकर बिमान बनर्जी ने तृणमूल कांग्रेस विधायक शोभनदेब चटर्जी को भाजपा विधायकों के निलंबन के लिए प्रस्ताव लाने की अनुमति दी। विधानसभा अध्यक्ष ने भाजपा विधायकों को निलंबित कर दिया। बाद में चटर्जी ने कहा कि भाजपा विधायक सदन की मर्यादा और अनुशासन बरकरार नहीं रख रहे हैं और हमेशा कार्यवाही बाधित करने की कोशिश करते हैं। संदेशखाली में बड़ी संख्या में महिलाओं ने पिछले कुछ दिनों में विरोध प्रदर्शन किया, जिसमें आरोप लगाया गया कि स्थानीय टीएमसी नेता शेख शाहजहां और उनके "गिरोह" ने उनका यौन उत्पीड़न करने के अलावा, जमीन के बड़े हिस्से पर बलपूर्वक कब्जा कर लिया। उन्होंने शाहजहां की गिरफ्तारी की मांग की, जो पिछले महीने से फरार है,