H

बांधवगढ़ नेशनल पार्क के कोर जोन के गेट बंद, अब तीन माह बाद ही पर्यटकों को मिलेगा प्रवेश

By: Sanjay Purohit | Created At: 01 July 2024 08:00 AM


जुलाई 2023 से जून 2024 के बीच 1 लाख 78 हजार से ज्यादा पर्यटकों ने उठाया पर्यटन का लुत्फ

bannerAds Img
बांधवगढ़ नेशनल पार्क की फीमेल बाघ अपने शावकों के साथ सबसे ज्यादा चर्चा में रही। कोर जोन हो या फिर बफर अपने-अपने क्षेत्र में इन मादा बाघों की सबसे ज्यादा साइटिंग हुई है। इनकी अपने शावकों के साथ चहल कदमी, जल क्रीड़ा सहित अन्य गतिविधियां पर्यटकों को रोमांचित करने वाली रही हैं। इनके अलावा मेल बाघों ने भी पर्यटकों को निराश नहीं किया है। बांधवगढ़ नेशनल पार्क के बजरंग, छोटा भीम, पुजारी, डीएम मेल सहित अन्य पर्यटकों को आसानी से दिखने वाले बाघो में शामिल रहे हैं। इनकी सहजता से साइटिंग पर्यटकों को अपने आप बांधवगढ़ खीचं लाती है। जुलाई 2023 से जून 2024 के बीच बांधवगढ़ नेशनल पार्क के कोर व बफर जोन में कुल 1 लाख 78 हजार 918 पर्यटकों ने सफारी की। सोमवार से कोर जोन के तीनों गेट पर्यटकों के लिए बंद हो जाएंगे। पर्यटक अब 1 अक्टूबर से कोर जोन में सफारी का लुत्फ उठा सकेंगे। हालांकि इस दौरान बफर के तीनो जोन में पर्यटन प्रारंभ रहेगा।

तीन माह यहां नहीं होगी सफारी

बांधवगढ़ नेशनल पार्क के कोर जोन के गेट 1 जुलाई से तीन माह के लिए बंद हो जाएंगे। बारिश के चलते ताला, मगधी व खेतौली कोर जोन में पर्यटक पर्यटन नहीं कर सकेंगे। इसके अलावा पचपेढ़ी, पनपथा और धमोखर बफर जोन पर्यटकों के लिए खुला रहेगा, यहां पर्यटक सुबह और शाम दोनों समय सफारी कर सकेंगे।

बांधवगढ़ नेशनल पार्क में इन बाघों ने बनाई पहचान

कोर जोन हो या फिर बफर दोनो ही जगह बांधवगढ़ नेशनल पार्क के मेल व फीमेल बाघों ने पर्यटकों के बीच अपनी विशेष पहचान बनाई है। इनमें सबसे ज्यादा अपने शावकों के साथ नजर आने वाले फीमेल बाघ रहे हैं। फिर चाहे वह चक्रधारा हो या फिर बफर फीमेल व सिद्ध बाबा फीमेल। इनमें अलावा बजरंग, छोटा भीम, पुजारी, डीएम मेल साइटिंग में सबसे आगे रहे हैं।

दिसंबर के बाद मई जून में सबसे ज्यादा पर्यटन

बांधवगढ़ नेशनल पार्क में जुलाई 2023 से सितम्बर 2023 तक कोर जोन बंद रहने के दौरान बफर जोन में सफारी शुरु रही। इस दौरान 2100 से ज्यादा पर्यटकों ने पर्यटन का लुत्फ उठाया। इसके बाद कोर जोन के गेट खुलने के साथ पर्यटकों की संख्या में इजाफा शुरु हो गया। इस दौरान हर माह 15 हजार से ज्यादा पर्यटक बांधवगढ़ पहुंचे हैं। इनमें से सबसे ज्यादा मई माह में 23 हजार 537 और दिसंबर में 23 हजार 115 पर्यटकों ने पर्यटन किया है।

25 हजार से ज्यादा विदेशी पर्यटक पहुंचे

बांधवगढ़ में सबसे ज्यादा पर्यटक बाघों के दीदार के लिए पहुंचते हैं। जुलाई 2023 से जून 2024 के बीच यहां तीनों कोर व बफर जोन में 36149 वाहनों की मदद से 1 लाख 78 हजार 918 पर्यटकों ने पर्यटन का लुत्फ उठाया है। इनमें से 8596 वाहनों से 25 हजार 894 विदेशी पर्यटक कोर व बफर जोन में सफारी कर यहां की प्राकृतिक सुंदरता के साथ बाघों का दीदार किया है। वहीं 27 हजार 553 वाहनों की मदद से 1 लाख 53 हजार 24 भारतीय सैलानियों ने पर्यटन किया है।