H

शिवराज बोले- लोकसभा चुनाव से पहले लागू होगा CAA, नागरिकता छीनने नहीं, देने का है कानून

By: Ramakant Shukla | Created At: 13 February 2024 03:40 PM


मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को कोलकाता में कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले CAA लागू हो जाएगा। उन्होंने दावा किया कि विपक्ष भ्रम फैला रहा है कि इससे किसी की नागरिकता छीन ली जाएगी। लेकिन, यह तो नागरिकता देने का कानून है।

banner
मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को कोलकाता में कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले CAA लागू हो जाएगा। उन्होंने दावा किया कि विपक्ष भ्रम फैला रहा है कि इससे किसी की नागरिकता छीन ली जाएगी। लेकिन, यह तो नागरिकता देने का कानून है। आगे उन्होंने ने कहा कि मुझे पूरा भरोसा है कि CAA को लोकसभा चुनाव से पहले लागू कर दिया जाएगा। इस कानून को लागू करना वक्त की आवश्यकता है। यह कई बार स्पष्ट किया जा चुका है कि इस कानून से किसी की नागरिकता नहीं छीनी जाएगी। यह तो उन भाइयों और बहनों को नागरिकता देगा, जिन्हें पड़ोसी देशों में धार्मिक आधार पर भेदभाव और ज्यादती झेलनी पड़ी है।

क्या है CAA?

भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने 2019 में CAA को संसद में पारित किया था। इसका उद्देश्य बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान से 31 दिसंबर 2014 के बाद भारत आने वाले गैर-मुस्लिमों यानी हिंदू, सिख, जैन, बौद्ध, पारसी और इसाइयों को भारतीय नागरिकता देना है। पिछले लोकसभा और पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनावों से पहले CAA को लागू करना एक बड़ा चुनावी मुद्दा साबित हुआ था और इसका लाभ भी भाजपा को मिला था।

बंगाल में 35+ सीटें जीतेंगे

शिवराज सिंह चौहान को पश्चिम बंगाल में कोलकाता जिले में हावड़ा क्लस्टर की दो लोकसभा सीटों की संगठनात्मक तैयारियों की जिम्मेदारी दी गई है। उन्होंने यह भी दावा किया कि भाजपा इस बार राज्य की 35 लोकसभा सीटों को हासिल करने के लक्ष्य को पूरा करेगी। उन्होंने कहा कि बंगाल में कट, कमीशन और करप्शन का शासन चल रहा है। राज्य के लोग तृणमूल कांग्रेस के कुशासन से तंग आ चुके हैं। पिछली बार हमने दो से 18 सीटों का सफर तय किया था। इस बार हमें पूरा भरोसा है कि पश्चिम बंगाल में हम 35 से अधिक सीटें जीतने जा रही है। 2019 के चुनावों में टीएमसी ने 22, भाजपा ने 18 और कांग्रेस ने दो सीटें जीती थी।