H

सरदार नहीं होते तो आज हम यहां नहीं होते - अमित शाह

By: Durgesh Vishwakarma | Created At: 31 October 2023 06:03 AM


अमित शाह ने कहा कि, अगर आजादी के समय सरदार साहब देश के गृहमंत्री नहीं होते तो आज न तो हम यहां पर खड़े होते और न हीं ये भारत का मानचित्र होता।

bannerAds Img
देश के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभभाई पटेली की आज 148 वीं जयंती है। इस मौके पर गृहमंत्री अमित शाह ने लोगों से कहा कि, सभी लोगों को एक संकल्प लेना है कि, भारत दुनिया में सबसे आगे होगा। शाह ने कहा कि, अगर आजादी के समय सरदार साहब देश के गृहमंत्री नहीं होते तो आज न तो हम यहां पर खड़े होते और न हीं ये भारत का मानचित्र होता। आजादी के बाद अंग्रेज इस देश को खंड़-खंड करके चले गए थे।

सरदार पटेल न होते तो ये दिन भी नहीं होता

गृहमंत्री अमित शाह ने लोगों से कहा कि, सरदार पटेल न होते तो ये दिन भी नहीं होता। आजादी के अमृत महोत्सव के बाद आज का दिन पहला है। हमे संकल्प लेना, देश जब आजादी की शताब्दी मनाएगा तब पूरी दुनिया में भारत सर्वप्रथम होगा। उन्होंने शपथ लेते हुए कहा कि, मै सत्य निष्ठा से शपथ लेता हूं कि, राष्ट्र की एकता, अखंडता को बनाए रखने के लिए खुद को समर्पित करूंगा और देशवासियों में ये विचार पहुंचाने के लिए काम करूंगा। शाह ने आगे कहा कि, मैं ये शपथ सरदार पटेल के नाम पर ले रहा हूं। मैं अपने देश की आंतरिक सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए भी सत्य निष्ठा से शपथ लेता हूं।

अमित शाह का ट्वीट

आपको बता दें कि, इससे पहले गृहमंत्री अमित शाह ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म (X)पर ट्वीट कर लिखा कि, भारत की एकता और समृद्धता सरदार वल्लभभाई पटेल जी के जीवन का एकमात्र ध्येय था। उन्होंने अपनी चट्टान जैसी दृढ़ इच्छाशक्ति, राजनीतिक विद्वता व कठोर परिश्रम से 550 से अधिक रियासतों में बंटे भारत को एक संगठित राष्ट्र बनाने का काम किया। सरदार साहब का राष्ट्र को समर्पित जीवन व देश के पहले गृह मंत्री के रूप में देश-निर्माण के कार्य हमें सदैव प्रेरणा देते रहेंगे। लौह पुरुष सरदार पटेल जी को उनकी जन्म-जयंती पर कोटिशः नमन व सभी देशवासियों को राष्ट्रीय एकता दिवस' की शुभकामनाएं।