H

धार्मिक नगरी के साथ प्रॉपर्टी हब बन रहा है उज्जैन, महाकाल लोक बनने के बाद श्रद्धालुओं का आना बढ़ा

By: Sanjay Purohit | Created At: 25 June 2024 09:18 AM


उज्जैन द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक श्री महाकालेश्वर भगवान के कारण ही प्रसिद्ध था, लेकिन महाकाल लोक के निर्माण के बाद जैसे-जैसे उज्जैन में पर्यटकों की संख्या बढ़ती गई, वैसे ही उज्जैन भी प्रॉपर्टी हब बन गया।

bannerAds Img
उज्जैन द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक श्री महाकालेश्वर भगवान के कारण ही प्रसिद्ध था, लेकिन महाकाल लोक के निर्माण के बाद जैसे-जैसे उज्जैन में पर्यटकों की संख्या बढ़ती गई, वैसे ही उज्जैन भी प्रॉपर्टी हब बन गया। वर्तमान में स्थितियां कुछ ऐसी हैं कि यह शहर चारों ओर से सड़क कनेक्टिविटी से तो जुड़ा ही हुआ है लेकिन इसके साथ ही उज्जैन शहर औद्योगिक क्षेत्र हो या फिर अन्य स्थान सभी जगह पर प्रॉपर्टी बूम साफतौर पर दिखाई दे रहा है।

इंदौर के बाद उज्जैन में भी प्रॉपर्टी की डिमांड लगातार बढ़ती जा रही है। इंदौर की तरह उज्जैन संभाग में भी प्रॉपर्टी की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी होने के साथ ही यह शहर भी अब राजस्व में अव्वल आने लगा है। बताया जाता है कि 2 सालों में प्रदेश का सबसे बड़ा निवेश उज्जैन में ही हुआ है। यहां औद्योगिक नगर विक्रम उद्योगपुरी का निर्माण देवास रोड पर किया गया है जो कि 442 हेक्टेयर क्षेत्र में बनी हुई है। यहां 13000 करोड़ के उद्योग अब तक आ चुके हैं और इन उद्योगों से यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि इससे लगभग 78,000 लोगों को रोजगार मिलेगा।