H

Uttarakhand UCC Bill: विधानसभा में पेश हुआ UCC विधेयक, 'जय श्री राम' के नारे से गूंजा सदन, 2 बजे तक स्थगित की गई कार्यवाही

By: payal trivedi | Created At: 06 February 2024 12:30 PM


विधानसभा सत्र के दूसरे दिन आज सरकार समान नागरिक संहिता से संबंधित विधेयक सदन में पेश कर दिया गया। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भारतीय संविधान की एक प्रति के साथ देहरादून स्थित अपने आवास से रवाना हुए थे।

banner
देहरादून: विधानसभा सत्र के दूसरे दिन आज सरकार समान नागरिक संहिता (Uttarakhand UCC Bill) से संबंधित विधेयक सदन में पेश कर दिया गया। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भारतीय संविधान की एक प्रति के साथ देहरादून स्थित अपने आवास से रवाना हुए थे। उन्होंने सदन की कार्यवाही के दौरान यूसीसी विधेयक पेश किया। सीएम धामी द्वारा राज्य विधानसभा में समान नागरिक संहिता उत्तराखंड 2024 विधेयक पेश करने के बाद राज्य विधानसभा के अंदर विधायकों द्वारा "वंदे मातरम और जय श्री राम" के नारे लगाए गए। इसके बाद सदन की कार्यवाही आज दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

यह हमारे लिए ऐतिहासिक क्षण: शिव अरोड़ा

उत्तराखंड विधानसभा में पेश किए गए यूसीसी बिल (Uttarakhand UCC Bill) पर उत्तराखंड बीजेपी विधायक शिव अरोड़ा ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि यह हमारे लिए ऐतिहासिक क्षण है... यूसीसी से बड़ी खुशी क्या हो सकती है? यह लोगों को समान अधिकार देता है। सीएम धामी ने आज इसे पेश किया।

समान नागरिक संहिता के प्रमुख बिंदु

1- तलाक के लिए सभी धर्मों का एक कानून होगा ।

2-तलाक के बाद भरण पोषण का नियम एक होगा ।

3-गोद लेने के लिए सभी धर्मों का एक कानून होगा ।

4-संपत्ति बटवारे में लड़की का समान हक सभी धर्मों में लागू होगा ।

5-अन्य धर्म या जाति में विवाह करने पर भी लड़की के अधिकारों का हनन नहीं होगा ।

6-सभी धर्मों में विवाह की आयु लड़की के लिए 18 वर्ष अनिवार्य होगी ।

7-लिव इन रिलेशनशिप के लिए पंजीकरण जरूरी होगा ।

8- प्रदेश की जनजातियां इस कानून से बाहर होंगी ।

9-एक पति पत्नी का नियम सब पर लागू होगा, बहुपत्नी प्रथा होगी समाप्त।