H

गजब संयोग! इतिहास में पहली बार दो बचपन के दोस्तों के हाथ में होगी सेना की कमान

By: Sanjay Purohit | Created At: 30 June 2024 09:02 AM


एडमिरल दिनेश त्रिपाठी ने एक मई को नेवी की कमान संभाली थी. वहीं लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी आज आर्मी चीफ की अपनी नई जिम्मेदारी को संभालेंगे. उपेंद्र द्विवेदी जनरल मनोज पांडे की जगह लेंगे, जो रिटायर होने वाले हैं.

bannerAds Img
भारतीय सेना के लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी आज से सेना प्रमुख का अपना नया पदभार संभालेंगे. इसमें खास बात यह है कि इतिहास में ऐसा पहली बार होने जा रहा है जब दो क्लासमेट अपने-अपने सेनाओं के प्रमुख की जिम्मेदारी संभालेंगे. बता दें, लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी और एडमिरल दिनेश त्रिपाठी आर्मी और नेवी के चीफ होंगे. जानकारी के मुताबिक नौसेना चीफ एडमिरल दिनेश त्रिपाठी और नामित सेना प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी मध्य प्रदेश के सैनिक स्कूल रीवा में 5वीं क्लास में एक साथ पढ़ते थे.

स्कूल टाइम से ही अच्छी दोस्ती

स्कूल टाइम से ही इन दोनों लोगों में काफी अच्छी दोस्ती है. वहीं सेना के अलग-अलग अंगों में जिम्मेदारी संभालने के बावजूद यह लोग हमेशा संपर्क में रहे. जानकारी के मुताबिक इनके रोल नंबर भी आसपास ही थे.

रीवा के सैनिक स्कूल को क्रेडिट

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एक रक्षा अधिकारी ने बताया कि सेना में अधिकारियों के बीच मजबूत दोस्ती सेनाओं के बीच बेहतर तालमेल को और मजबूत करती है. रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ए भारत भूषण बाबू ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर एक पोस्ट में कहा कि दो छात्रों को ट्रेनिंग देने का यह सम्मान, जो 50 साल बाद अपनी-अपनी सेनाओं का प्रमुख बनेंगे, रीवा के सैनिक स्कूल को जाता है.

आज नई जिम्मेदारी संभालेंगे उपेंद्र द्विवेदी

दोनों क्लासमेट की जॉइनिंग भी लगभग एक ही समय पर हुई हैं. एडमिरल दिनेश त्रिपाठी ने एक मई को नेवी की कमान संभाली थी. वहीं लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी आज आर्मी चीफ की अपनी नई जिम्मेदारी को संभालेंगे.