H

दिग्विजय सिंह ने EVM पर फिर उठाएं सवाल, CM केजरीवाल की गिरफ्तारी पर लगाये प्रश्नचिन्ह

By: Sanjay Purohit | Created At: 22 March 2024 02:32 PM


दिग्विजय सिंह ने कहा, कौन सा ईवीएम किस विधानसभा और पोलिंग वोट में लगाया जाएगा। यह सेंट्रल इलेक्शन सर्वर से चुनाव आयोग तय करता है।

banner
भोपाल। मध्यप्रदेश में एक बार फिर पूर्व सीएम और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने EVM पर सवाल उठायें है। उन्होंने शुक्रवार को पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते हुए कि, कौन सा ईवीएम किस विधानसभा और पोलिंग वोट में लगाया जाएगा। यह सेंट्रल इलेक्शन सर्वर से चुनाव आयोग तय करता है। इसके अलावा उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को ED द्वारा गिरफ्तार किये जाने पर भी निशाना साधा है। उन्होंने गिरफ्तारी को लेकर कहा कि, इतिहास में पहली बार हुआ है कि दो सेटिंग चीफ मिनिस्टर को जेल भेजा है। हेमंत सोरेन को दबाव बनाया कि वह भाजपा में आ जाए और कैसे खत्म कर देंगे। उन्होंने जेल जाना पसंद किया है।

पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरवाल की गिरफ्तार पर कहा कि अरविंद केजरीवाल का कसूर इतना था कि वह इंडिया गठबंधन के साथ मिलकर चुनाव लड़ रहे थे। दिल्ली में एक साथ कांग्रेस और बीजेपी चुनाव लड़ रही है। उन्होंने कहा कि इतिहास में पहली बार हुआ है कि दो सिटींग चीफ मिनिस्टर को जेल भेजा है। हेमंत सोरेन पर दबाव बनाया कि वह भाजपा में आ जाए और कैसे खत्म कर देंगे। उन्होंने जेल जाना पसंद किया है। यह ट्राइवल कैरेक्टर है यह आदिवासी का चरित्र है वह मरना पसंद करेगा, लेकिन आदर्शों के सामने नहीं झुकेगा।

ईवीएम पर उठाए सवाल

पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन में गड़बड़ी के मामले में चुनाव आयोग से मांग की है कि वीवीपैट मशीन में डाले जाने वाले सॉफ्टवेयर का नाम बताएं, जब सिंबल डाला जाता है, रेंडमाइजेशन होता है। यह चुनाव आयोग के सर्वर से कनेक्ट होता है फिर कैसे कहते हैं कि ईवीएम इंटरनेट से कनेक्ट नहीं है। कौन सा ईवीएम किस विधानसभा और पोलिंग वोट में लगाया जाएगा। यह सेंट्रल इलेक्शन सर्वर से चुनाव आयोग तय करता है।

पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने बीजेपी का नाम लिए बगैर कहा कि इनका अति विश्वास झलकता है। 2014 में कहा कि हमें 272 से ऊपर सीटें मिलेंगी, 284 आई। 2019 में कहा 300 पार जाएंगे, 303 आई। अब कह रहे हैं 400 पार। इस प्रकार का उदाहरण कही और देखने को नहीं मिलता। यह जो आत्मविश्वास झलक रहा है ये शुरू से शक पैदा करता है।

आज जारी होगी सूची

मप्र के शेष बची लोकसभा सीटों पर प्रत्याशियों की घोषणा को लेकर दिग्विजय सिंह ने कहा कि 4-5 नाम सीईसी से अटके हुए हैं, आज सूची जारी हो जाएगी। इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन में गड़बड़ी करने वालों को दिग्विजय सिंह की चेतावनीए कांग्रेस बहुत करीब पहुंच चुकी है जिस दिन पकड़े जाएंगे देशद्रोह के तहत फांसी दी जाएगी।

कांग्रेस पार्टी का गला घोंटने का प्रयास

पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने कहा कि,आजादी के पहले जब महात्मा गांधी जी हमारे अध्यक्ष थे और जमनालाल बजाज हमारे कोषाध्यक्ष हुआ करते थे शायद उस समय का भी केस ढूंढ रहे होंगे कैसे इन्हें नोटिस दिया जाए। ये कांग्रेस पार्टी का गला घोंटने का प्रयास कर रहे हैं। पूर्व सीएम ने कहा कि BJP इस मदर डेमोक्रसी का गला घोंट रहे हैं। 14 लाख का नोटिस है और 210 करोड़ की पैनेल्टी है।