H

CM धामी ने किया गायों का पूजन, प्रदेशवासियों के लिए की सुख-समृद्धि की कामना

By: Durgesh Vishwakarma | Created At: 14 November 2023 01:13 PM


कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि को गोवर्धन पूजन करने का विधान है। इस तिथि को अन्नकूट के नाम से जाना जाता है।

banner
कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि को गोवर्धन पूजन करने का विधान है। इस तिथि को अन्नकूट के नाम से जाना जाता है, क्योंकि इस दिन घरों में अन्नकूट का भोग बनाया जाता है। आपको बता दें कि, गोवर्धन पूजा का पर्व दिवाली के दूसरे दिन मनाया जाता है, लेकिन इस बार अमावस्या तिथि 2 दिन होने की वजह से गोवर्धन पूजन 14 नवंबर को मनाया जा रहा है। इस दिन श्रीकृष्ण के स्वरूप गोवर्धन पर्वत(गिरिराज जी) और गाय की पूजा का विशेष महत्व होता है।

सीएम धामी ने मुख्यमंत्री आवास में गायों की पूजा की

गोवर्धन पूजा के अवसर पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री आवास में गायों की पूजा की। इसके अलावा पूजा के दौरान सीएम धामी ने प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि व खुशहाली की कामना की। वहीं दूसरी तरफ आज गंगोत्री धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद कर दिए जाएंगे। गोवर्धन,वृंदावन और मथुरा सहित पूरे बृज में इस दिन जोर-शोर से अन्नकूट महोत्सव मनाया जाता है।

गोवर्धन पूजन 14 नवंबर को मनाया जाएगा

अन्नकूट महोत्सव मंदिरों में अन्नकूट महोत्सव कार्तिक प्रतिपदा से लेकर कार्तिक पूर्णिमा तक चलता है। इस बार कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि की शुरुआत 13 नवंबर दिन सोमवार से दोपहर 2 बजकर 56 मिनट से हो रही है और तिथि का समापन 14 नवंबर दिन मंगलवार को दोपहर 2 बजकर 36 मिनट पर होगा। ऐसे में उदया तिथि को मानते हुए गोवर्धन पूजन 14 नवंबर को मनाया जाएगा।