H

विकास के दावों के बीच शर्मनाक तस्वीर, सतना में ' झोली एंबुलेंस' से प्रसूता को परिजन ले जा रहे थे अस्पताल, रास्ते में हो गई डिलीवरी

By: Sanjay Purohit | Created At: 21 March 2024 12:47 PM


मध्यप्रदेश में एक तरफ जहां सरकार विकास के बड़े-बड़े दावे कर रही है। तो वहीं दूसरी तरफ मध्यप्रदेश के लोगों को एंबुलेंस तक भी नसीब नहीं हो पा रही है।

banner
मध्यप्रदेश में एक तरफ जहां सरकार विकास के बड़े-बड़े दावे कर रही है। तो वहीं दूसरी तरफ मध्यप्रदेश के लोगों को एंबुलेंस तक भी नसीब नहीं हो पा रही है। एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है, यह वीडियो सतना जिले की चित्रकूट नगर पंचायत से सामने आया है। जहां सड़क न होने से प्रसूता को अस्पताल पहुंचाने के लिए परिजनों को कंधे में झोली का सहारा लेना पड़ा। मौके पर मौजूद लोगों ने घटना का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया है।

यह पूरा मामला चित्रकूट नगर पंचायत का है। जहां पर ऊबड़-खाबड़ रास्ता होने के कारण यहां तक कोई वाहन नहीं पहुंच पाता है। यही कारण है कि बीते दिनों संगीता मवासी को प्रसव पीड़ा शुरू हुई. परिजनों ने एंबुलेंस के लिए 108 नम्बर को फोन लगाया तो वहां से जवाब मिला कि सड़क न होने से आपके घर तक एंबुलेंस नहीं आ सकती। जिसके बाद परिजनों ने महिला को झोली में लिटाकर अस्पताल तक पहुंचाया।

प्रसूता को डिलीवरी के लिए परिजन ले जा रहे थे। लेकिन काफी समय लग जाने के कारण डिलेवरी इसी झोली में ही हो गयी है। जिसे परिजन बच्चे को गोद में और प्रसूता को झोली के सहारे नजदीकी चित्रकूट प्राथमिक स्वास्थ केंद्र चित्रकूट लेकर पहुंचे। अब इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।