H

हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी को लेकर बीजेपी पर बरसीं सीएम ममता, बोलीं- यह बदले के भाव से जुड़ा एक्शन

By: Ramakant Shukla | Created At: 02 February 2024 01:28 PM


झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) के नेता हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी को लेकर पश्चिम बंगाल की सीएम ने बीजेपी को घेरा है। उन्होंने कहा- मैं ताकतवर आदिवासी नेता हेमंत सोरेन की नाजायज गिरफ्तारी की कड़ी निंदा करती हूं। यह बदले की भावना से जुड़ा घटनाक्रम है जिसके पीछे बीजेपी समर्थित केंद्रीय एजेंसियां हैं। यह एक चुनी हुई सरकार को गिराने की साजिश है।

banner
झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) के नेता हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी को लेकर पश्चिम बंगाल की सीएम ने बीजेपी को घेरा है। उन्होंने कहा- मैं ताकतवर आदिवासी नेता हेमंत सोरेन की नाजायज गिरफ्तारी की कड़ी निंदा करती हूं। यह बदले की भावना से जुड़ा घटनाक्रम है जिसके पीछे बीजेपी समर्थित केंद्रीय एजेंसियां हैं। यह एक चुनी हुई सरकार को गिराने की साजिश है। टीएमसी चीफ ममता बनर्जी के मुताबिक, हेमंत सोरेन उनके करीबी दोस्त हैं और वह उनके साथ इस घड़ी में खड़ी हैं। झारखंड के लोग इस लड़ाई में कड़ा जवाब देंगे और विजयी बनकर सामने आएंगे। इससे पहले हेमंत सोरेन के खिलाफ ईडी की कार्रवाई को लेकर शुक्रवार को संसद में भी विपक्षी दलों ने हंगामा किया और इसे बदले की कार्रवाई कहा।

हेमंत के खिलाफ क्या हैं आरोप?

ईडी जिस मामले में हेमंत सोरेन पर कार्रवाई कर रही है, वह जमीन और खनन घोटाला से जुड़ा है। सोरेन को इसी मामले में मनी लॉन्ड्रिंग निवारण अधिनियम (पीएमएलए) की धारा 50 के तहत जांच के संबंध में 10 समन जारी किए गए थे। जांच एजेंसी दो प्रमुख मामलों की जांच कर रही है, जिसमें राज्य की राजधानी में अवैध खनन और जमीन घोटाला शामिल है। जमीन घोटाले का मामला सेना के कब्जे वाली जमीन की खरीद-बिक्री से जुड़ा हुआ है। फर्जी नाम-पता के आधार पर झारखंड में सेना की जमीन की खरीद-फरोख्त हुई। इस सिलसिले में रांची नगर निगम ने एफआईआर दर्ज करवाई थी। ईडी ने उसी एफआईआर के आधार पर प्रवर्तन मामले की सूचना रिपोर्ट (ECIR) दर्ज करके जांच शुरू की थी।