H

Kanhaiyalal हत्याकांड की दूसरी बरसी आज, हत्यारों को फांसी मिलने की आस में परिवार, इंसाफ नहीं मिलने तक बेटा 3 प्रण पर है अटल

By: payal trivedi | Created At: 28 June 2024 06:53 AM


उदयपुर में हुए टेलर कन्हैयालाल हत्याकांड की आज दूसरी बरसी है। आज भी ये परिवार कन्हैयालाल के हत्यारों को जल्द फांसी मिलने की आस लगाए हुए है।

bannerAds Img
Udaipur: उदयपुर में हुए टेलर कन्हैयालाल हत्याकांड की आज दूसरी बरसी है। आज भी ये परिवार कन्हैयालाल के हत्यारों को जल्द फांसी मिलने की आस लगाए हुए है। इसको लेकर कन्हैयालाल के बड़े बेटे यश तेली (22) आज भी अपने 3 प्रण पर अटल हैं। पहला प्रण ये है कि उनके पिता के हत्यारों को फांसी की सजा मिलने पर ही वे पिता की अस्थियों का गंगा में वि​सर्जन करेंगे। दूसरा, वे दो साल से बिना जूते-चप्पल नंगे पैर ही रह रहे हैं और तीसरा, उन्होंने अभी तक सिर के बाल नहीं कटवाए हैं। हत्यारों को फांसी मिलने पर ही वे अपने ये 3 प्रण तोड़ेंगे।

'सिलाई मशीन देख लगता है, पापा यहीं आसपास हैं'

यश बताते हैं कि पापा की दुकान में एक सबसे पुरानी सिलाई की मशीन थी, जो मेरे जन्म से पहले खरीदी गई थी। उस सिलाई मशीन को जब भी देखता हूं तो मुझे पापा की याद आ जाती है। उसे देखकर ऐसा लगता है कि पापा यहीं हमारे आसपास हैं। यश ने बताया कि इस घटना के बाद से जांच को लेकर दुकान बंद थी। NIA ने जब हमें दुकान की चाबी सौंपी। तब हमने वह दुकान खोलकर वह सिलाई मशीन निकाली और घर पर लेकर आए।

24 घंटे सुरक्षा पहरे में रहता है परिवार

कन्हैयालाल के बेटे यश ने कहा कि 2 साल बीत गए। इस मामले में जल्द कार्रवाई होनी चाहिए थी। तीन से 6 माह में हमें न्याय की आस थी, लेकिन अभी तक न्याय नहीं मिला है। इस पूरे मामले की NIA जांच कर रही है। इस घटना के बाद से परिवार को राज्य सरकार ने पुलिस की सुरक्षा दी हुई है। कन्हैया के बेटे ने कहा कि राजस्थान से बाहर जाने पर पहले स्थानीय थाना पुलिस को सूचना देनी पड़ती है। आने के बाद स्थानीय थाना पुलिस को बताना पड़ता है। 24 घंटे घर पर पुलिस तैनात रहती है। ड्यूटी के दौरान भी सुरक्षा गार्ड रहते हैं।

'ये 2 साल जिंदगी में किसी पहाड़ टूटने से कम नहीं'

कन्हैया की पत्नी जशोदा (44) ने कहा कि NIA और सरकार से यही उम्मीद रखती हूं कि इस केस को जल्द से जल्द फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाया जाना चाहिए। 3 से 6 माह में हत्यारों को सजा मिलनी चाहिए। अब ज्यादा देरी नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि 2 साल हमारी जिंदगी में किसी पहाड़ टूटने से कम नहीं है। बेटे जब नंगे पैर इस चिलचिलाती धूप में ड्यूटी पर जाते देखती हूं तो दिल कचोटता है। बावजूद इसके वो कुछ नहीं कर सकती। उनका कहना है कि पति के जाने के बाद हर दिन न्याय की आस में गुजा रहे हैं कि इंसाफ आखिर कब मिलेगा, अपराधियों को सजा ​कब होगी।

जिस जगह टेलर की दुकान थी, उस गली में पसरा सन्नाटा

28 जून 2022 को कन्हैयालाल की हत्या के बाद से मालदास स्ट्रीट में सन्नाटा है। गली में आज भी करीब 10 से ज्यादा दुकानें बंद है। कारोबार में भी गिरावट आई है। घटना के बाद से आज भी यहां के दुकानदार सहित आसपास लोग सहमे हुए हैं। बता दें, 28 जून को मालदास स्ट्रीट की भूतमहल गली में सुप्रीम टेलर्स के संचालक कन्हैयालाल साहू की रियाज और गौस नाम के हत्यारों ने तालिबानी तरीके से गला काटकर हत्या कर दी थी। मर्डर के बाद आरोपियों ने हमले के लाइव वीडियो और इसकी जिम्मेदारी लेते हुए वीडियो भी पोस्ट किए थे। अभी मामला NIA कोर्ट में चल रहा है।

पुण्यतिथि पर आज रक्तदान और सम्मान समारोह होगा

सर्व समाज की ओर से टेलर कन्हैयालाल साहू की दूसरी पुण्यतिथि मनाई जाएगी। इस अवसर पर सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक रक्तदार शिविर और दोपहर 3 से शाम 6 बजे तक धर्म प्रहरी सम्मान समारोह होगा। नगर निगम परिसर स्थित दीनदयाल सभागार में होने वाले इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि दिल्ली के भाजपा नेता कपिल मिश्रा होंगे। कार्यक्रम में द टेलर मर्डर स्टोरी के डायरेक्टर अमित जानी भी उपस्थित रहेंगे। वे फिल्म से जुड़ी जानकारी साझा करेंगे।