Connect with us

International

उत्तर कोरिया ने जापान की ओर दागी मिसाइल, तनाव बढ़ा

Published

on

Share Post:
  • उत्तर कोरिया ने किया अपने हथियारों परीक्षणों
  • उत्तर कोरिया हथियारों के परीक्षण में ला रहा तेजी
  • अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच 2 साल से रुकी बातचीत

 

उत्तर कोरिया ने हाल ही में अपने हथियार परीक्षणों की निरंतरता में मंगलवार को समुद्र में एक बैलिस्टिक मिसाइल दागी, दक्षिण कोरियाई और जापानी सेनाओं ने कहा कि उत्तर कोरिया ने अपने हथियारों का परीक्षण जारी करते हुए मंगलवार को यह मिसाइल दागी। जब कुछ घंटों पहले अमेरिका ने उत्तर कोरिया के परमाणु हथियार कार्यक्रम पर कूटनीति बहाल करने की अपनी पेशकश दोहरायी थी।

 

हथियार कहाँ उतरा है इस बात का नहीं चल सका पता

Advertisement

दक्षिण के ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ ने तुरंत इसकी जानकारी नहीं दी थी कि यह बैलिस्टिक मिसाइल किस तरह की थी और कितनी दूर तक उड़ी थी। जापान के तट रक्षक ने जहाजों को एक समुद्री सुरक्षा सलाह जारी की है, लेकिन तुरंत इस बात का पता नहीं चल पाया था कि हथियार कहाँ उतरा है।

 

दक्षिण कोरिया पर पाखंड का लगाया आरोप 

Advertisement

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति किम जोंग कार्यालय प्रक्षेपण पर चर्चा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की बैठक आयोजित करने की योजना बना रहा था। दक्षिण कोरियाई की तरफ से एक मजबूत प्रतिक्रिया उत्तर कोरिया को नाराज कर सकती है, जो सियोल पर अपनी पारंपरिक सैन्य क्षमताओं का विस्तार कर रहा है जिसे लेकर दक्षिण कोरिया उत्तर कोरिया के हथियारों के किए जा रहे परीक्षण की आलोचना कर रहा है इस पर उत्तर कोरिया, दक्षिण कोरिया पर पाखंड का आरोप लगा रहा है।

सितंबर में एक महीने के लंबे समय को समाप्त करते हुए, उत्तर कोरिया सियोल को सशर्त शांति प्रस्ताव देते हुए अपने हथियारों के परीक्षण में तेजी ला रहा है, दक्षिण कोरिया, संयुक्त राज्य अमेरिका से जो चाहता है उसे प्राप्त करने के लिए दबाव डालने के अपने मिसाइल परीक्षण में तेजी ला रहा है।

कुछ दिनों में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के उत्तर कोरिया के लिए विशेष दूत सुंग किम का, प्योंगयांग के साथ बातचीत करने की संभावनाओं पर, सियोल में अमेरिका के सहयोगियों के साथ वार्ता करने का कार्यक्रम है

Advertisement

बिना शर्तों के बैठक करने के लिए तैयार हैं उत्तर कोरिया

अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच परमाणु बातचीत पिछले 2 साल से रूकी हुई थी, सिम किंग ने कहा कि अमेरिका से बातचीत करने के लिए वह लगातार प्योंगयांग से संपर्क कर रहा है। हमारा इरादा पहले की तरह ही है। हम लोकतांत्रिक कोरिया गणराज्य के प्रति हम कोई शत्रुपूर्ण मंशा नहीं रखते और हम बिना शर्तों के बैठक करने के लिए तैयार हैं। बातचीत के लिए तैयार रहने के बावजूद हमारी उत्तर कोरिया को लेकर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों को लागू करने की भी जिम्मेदारी है।

Advertisement
Share Post:
Advertisement
Advertisement
Address : IND24, Plot No. 35, Indira Press Complex,
MP Nagar, Zone – 1, Bhopal (MP) 462011

Copyright © 2021 Ind 24 News Channel.