Connect with us

Business

रिजर्व बैंक का बड़ा फैसला, ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं

Published

on

  • RBI के गवर्नर ने लिया फैसला
  • ब्याज की दरों में कोई बदलाव नहीं
  • रेपो रेट को 4 फीसदी पर बरकरार रखा
  • रिवर्स रेपो रेट को 3.35 फीसदी बनाए रखा

 

RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास ने इस बार भी ब्याज की दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। बुधवार को रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) की मौद्रिक नीति समीक्षा की बैठक हुई थी। अब उस बैठक के नतीजे सामने आ गए हैं। बैठक में केंद्रीय बैंक (RBI) ने ब्याज दरों में एक बार फिर से कोई बदलाव नहीं करने का फैसला किया है। रेपो रेट को 4 फीसदी पर बरकरार रखा है और रिवर्स रेपो रेट को 3.35 फीसदी पर बनाए रखा है। रिजर्व बैंक की मोद्रिक नीति समिति की 3 दिन की बैठक 4 अगस्त को शुरू हुई थी जो 6 अगस्त तक चली थी।

 

कोरोना महामारी और मुद्रास्फीति को रखा ध्यान में

इसके पहले भी ब्याज दर को लेकर बैठक की गई थी, उस बैठक में भी ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया था। कोविड-19 महामारी की तीसरी लहर की आशंका और खुदरा मुद्रास्फीति के बढ़ने के बीच ये फैसला लिया गया है।

 

Advertisement

क्या होती है रेपो रेट

रेपो रेट वह रेट होती है, जिस पर RBI कमर्शियल बैंकों और दूसरे बैंकों को लोन देता है। रेपो रेट अगर कम हो जाती है, तो इसका मतलब है कि आपको मिलने वाले लोन जैसे- होम लोन, व्हीकल लोन, पर्सनल लोन सभी सस्ते हो जाते हैं। इसके साथ ही आपकी जमा पर ब्याज दर में भी बढ़ोत्तरी होती है। सरल भाषा में देखा जाए तो जिस रेट पर RBI की तरफ से बैंको को जमा धन पर ब्याज मिलता है, उसे रेपो रेट कहा जाता है।

 

Share Post:
Advertisement

Copyright © 2021 Ind 24 News Channel. Website Design & Developed By Shreeji Infotek