Connect with us

Chhattisgarh

बिजली का भागता मीटर, ग्रामीणों की परेशानी का कारण

Published

on

  • खपत से अधिक बिजली बिल
  • 20 से 70 हजार तक आया बिल
  • कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा

 

रायगढ़। खपत से अधिक बिजली बिल आने से परेशान के गरीब मजदूर सोमवार को जिला कलेक्टर के कार्यालय पहुंचे। जहां उन्होंने बिजली बिल का विरोध कर कलेक्टर को ज्ञापन कलेक्टर को अपनी समस्या से बताई।

मजबूर ग्रामीणों ने कलेक्टर के सामने किया विरोध

दरअसल पुसौर तहसील के गांव मिडमिडा और लहंगापाली के रहवासी लगभग 40 गरीब उपभोक्ताओं को 2 महीने पहले हजारों रुपए का बिजली बिल थमा दिया गया था। गांव वालो ने बताया कि दोनो ही गांव के गरीब मजदूरों के घर का बिजली बिल बीस से चालीस और 70 हजार तक आया है। जिसकी शिकायत ग्रामीणों ने कोडातराई के बिजली ऑफिस में कई थी। परन्तु 2 महीने पहले की गई शिकायत का अबतक कोई भी निराकरण नहीं किया गया है। गांव वाले कई बार बिजली ऑफिस जा कर उपयोग से अधिक बिजली बिल आने की शिकायत के समाधान की मांग करते रहे हैं। जब विभाग के अधिकारियों ने इनकी नहीं सुनी तो ग्रामीण कलेक्टर जनदर्शन में फरियाद करने पहुंचे है। ग्रामीणों ने अपनी समस्या बताते हुए जिला कलेक्टर से शिकायत की है। और यह भी कहा है कि यदि उन्हें हज़ारों रुपए के बिजली बिल से छुटकारा नही मिलेगा तो वह लोग आमरण अनशन पर मजबूर हो जाएंगे। ग्रामीणों का कहना है कि बिजली विभाग ने उपयोग से अधिक बिजली की खपत बताते हुए उनके नाम अत्यधिक राशि का बिल जारी कर दिया है। जंहा पहले यही उपभोक्ता 200 से 400 रुपए का नियमित बिल भुगतान करते थे वो अचानक 20 से 70 हज़ार का बिजली बिल देख कर परेशान हैं।

 

 

Advertisement
Share Post:
Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement

Copyright © 2021 Ind 24 News Channel. Website Design & Developed By Shreeji Infotek