Connect with us

Madhya Pradesh

पत्नी को तोहफे में मिला ‘सातवां’ अजूबा

Published

on

Share Post:
  • बुरहानपुर का ‘शाहजहां’!
  • पत्नी को गिफ्ट किया ताज
  • सोशल मीडिया पर हुआ वायरल

 

कहते है कि शाहजहां ने मुमताज के लिए ताज महल बनवाने के बाद ताजमहल को बनाने वाले मजदूरों के हाथ कटवा दिए थे, जिससे कोई दूसरा ताजमहल ना बन सके। लेकिन बुरहानपुर के एक शख्स ने अपनी पत्नी के लिए दूसरा ताज महल बनवाया है। बता दें कि ताजमहल दुनिया का सातवां अजूबा है।

बेगम मुमताज की आखरी ख्वाहिश पूरा करने शाहजहां ने ताजमहल बनवाया था। इस तरह से उसने अपनी बीवी को कयामत तक कायम रहने वाला प्यार का कीमती तोहफा दिया था, जो दुनिया के लिए सातवां अजूबा बना। इसी कड़ी में आज हम आपको मिलवाने जा रहे हैं आज के शाहजहां से।

सच्चे प्यार का दिया तोहफा 

Advertisement

बुरहानपुर के एक शख्स ने अपनी पत्नी के लिए ताजमहल जैसी दिखने वाली इमारत बनाई है। इस प्यार की निशानी या यूं कहें ताजमहल का निर्माण शिक्षाविद आंनद प्रकाश चौकसे ने अपनी पत्नी मंजूषा चौकसे को अपने सच्चे प्यार का तोहफा दिया है। सच्चे प्यार की ये निशानी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। आंनद चौकसे को यहां ताज महल जैसा बनाने में कई अड़चने तो आई, लेकिन बावजूद इसके उनके अटूट विश्वास के चलते ये आलिशान मकान बनाने में सफलता हासिल की।

चौकसे दंपति ताजमहल देखने पहुंचे थे आगरा 

इंजीनियर प्रवीण चौकसे ने बताया कि आनंद चौकसे उनकी पत्नी मंजूषा चौकसे के साथ ताजमहल को देखने के लिए आगरा पहुंचते थे। चौकसे दंपति ने वहां उसका बारीकी से अध्ययन किया और बुरहानपुर लौटकर इंजीनियरों से मुलाकात कर हूबहू ताजमहल जैसा ही घर बनाने पर चर्चा की। जिसके बाद इंजीनियर प्रवीण चौकसे ने भी आगरा पहुंचकर ताजमहल की तकनीक और क्षेत्रफल का बारीकी से अवलोकन किया। बुरहानपुर में बनाया गया ताजमहल 90X90 का है, बेसिक स्ट्रक्चर 60X60 का है, डोम 29 फीट ऊंचा रखा गया है। ताजमहल जैसे घर में एक बड़ा हॉल, 2 बेडरूम नीचे, 2 बेडरूम ऊपर है। एक किचन, एक लाइब्रेरी और एक मेडिटेशन रूम भी इस महल में बनाया गया है।

Advertisement
Share Post:
Advertisement
Advertisement
Address : IND24, Plot No. 35, Indira Press Complex,
MP Nagar, Zone – 1, Bhopal (MP) 462011

Copyright © 2021 Ind 24 News Channel.